Support service
×

बैलेंस ऑफ ट्रेड

बैलेंस ऑफ ट्रेड एक निश्चित अवधि में किसी देश के एक्सपोर्ट और इम्पोर्ट के मौद्रिक मूल्य के बीच का अंतर है। बैलेंस ऑफ ट्रेड पाज़िटिव या नेगटिव हो सकता है।
 
यदि किसी देश का इम्पोर्ट वहाँ के एक्सपोर्ट से अधिक है तो वहाँ ट्रेड डेफिसिट है या नेगटिव बैलेंस ऑफ ट्रेड है। यानी, एक देश अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक्सपोर्ट (या बेचने) की तुलना में अन्य देशों से अधिक वस्तुओं और सेवाओं का इम्पोर्ट (या खरीद) करता है। ऐसे देश इम्पोर्ट संचालित होते हैं।
 
इसके विपरीत, यदि कोई राष्ट्र इम्पोर्ट से अधिक वस्तुओं और सेवाओं का एक्सपोर्ट करता है, तो वहाँ ट्रेड सर्प्लस या सकारात्मक व्यापार संतुलन होता है। ऐसे देश एक्सपोर्ट संचालित होते हैं।

अपनी राय साझा करें

धन्यवाद! क्या कोई ऐसी बात है जो आप जोड़ना पसंद करेंगे?

आपको प्राप्त उत्तर का मूल्यांकन आप कैसे करेंगे?

अपनी टिप्पणी दें (वैकल्पिक)

आपकी प्रतिक्रिया हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
हमारे ऑनलाइन सर्वेक्षण को पूरा करने के लिए समय निकालने के लिए धन्यवाद!

smile""